कच्चा चना खाने के फायदे | Benefits of Soaked Gram | आपके शरीर को देगा ताकत और तंदुरुस्ती

कच्चा चना खाने के फायदे : Benefits of Soaked Gram : आपके शरीर को देगा ताकत और तंदुरुस्ती, ( चना भिगोकर खाने के फायदे, कच्चा चना कैसे खांए, कच्चा चना बनाने की विधि, kacha chana benefits)

वैसे तो कच्चा चना, चना भिगोकर या अंकुरित चना खाने का प्रचलन हमारे देश में सदियों पुराना है। जिसमे अनेक प्रकार के खनिज पदार्थ होते हैं, जो हमारे शरीर को मजबूत और बीमारियों से लड़ने लायक बनाकर रखते हैं। लेकिन क्या आप ये जानते है की कच्चा चना खाने के साथ उसका पानी भी कितना फायदेमंद होता है, तो आइए जानते हैं कच्चा चना खाने के फायदे

कच्चा चना ( Kacha chana benefits):

कच्चा चना को प्रतिदिन सुबह खाली पेट खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। कच्चा चना को पानी में भिगोकर रात भर छोड़ देने से चने का अर्क पूरी तरह घुल जाता है। आप चने के साथ उसका पानी भी पिया करें, दोगुना फायदा होगा। आप चाहें तो इसे अंकुरित कर भी खा सकते हैं। चने को अंकुरित करने में 2 से 3 दिन लग जाता है।

  • चना पानी में भिगोकर खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है।
  • रोजाना कच्चा चना खाने या चने के पानी पीने से ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखा जा सकता है। जिनको शुगर यानी डायबिटीज हो उनके लिए ये तरीका रामबाण साबित हो सकता है।
  • यदि आप कब्ज या अपच की समस्या से परेशान है तो भी प्रतिदिन कच्चे चने का सेवन कीजिए।
  • भीगा चना खाने से आपको जल्दी भूख भी नही लगती और थकान या कमजोरी महसूस नहीं होती है।
  • कच्चे चना स्किन को चमकता हुआ रखने में सहायक होता है, इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स मददगार साबित होते है।
  • कच्चे चने को पानी से अलग करने के बाद पानी को कतई न फेंके, उसे पी जाए।

GROCERY Store/Mart कैसे शुरू कर पैसे कमाएं

कच्चा चना बनाने की विधि:

चने को बनाने में बहुत खास नियम की जरूरत नहीं पड़ती, इसके लिए कुछ साधारण सा तरीका होता है, जो निम्नलिखित है –

  • प्रतिदिन रात को बिस्तर पर जाने से पहले चने को आवश्यकता के अनुसार धोकर कटोरे में पानी डालकर ढंक दें।
  • केवल कच्चा चना खा सकते है, या गुड़ के साथ भी सेवन कर सकते है।
  • चने को अंकुरित करने के लिए कटोरे में से पानी निकालकर उसे एक सूती महीन कपड़े से तरीके से ढंक दें, फिर अगली सुबह अंकुरित चने का सेवन करें।
  • इसके अलावा आप भीगे चने में काला नमक, नींबू, हरी मिर्च, कटी हरी धनिया, भुना हुआ जीरा मिलाकर भी बना सकते है, और खा सकते हैं।

कच्चा चना

Winter Business ideas: बहुत कम लागत में ज्यादा मुनाफा कमाएं

कच्चा चना खाने का लाभ (Benefits of Soaked Gram)

डायट एक्सपर्ट डॉक्टर ज्योति त्रिपाठी के अनुसार चने में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, फास्फोरस, मैग्नीशियम, और विटामिन ए, बी, डी, ई और के प्रचुर मात्रा में पाए जातें हैं, जो हमारे शरीर को रोगों से बचाते हैं। चने को आप अंकुरित करके या भिगोकर खाए, साथ ही इसका पानी पीने पिएं, जो पेट संबंधित और शुगर संबंधित बीमारियों से भी बचाव करता है।

कच्चा चना पाचन में मददगार:

कच्चा चना में फाइबर अत्यधिक मात्रा में होता है जो हमारे पाचन तंत्र को मजबूत कर भोजन को पूरी तरह से पचाने में भी सहायक साबित होता है।

वजन कम करने में सहायक:

अगर आप का भी वजन आवश्यकता से अधिक हो गया है, तो कच्चा चना का को भिगो कर या अंकुरित कर खाएं। चने में ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो भूख को कम कर वजन घटाने में मदद करता है।

कैंसर से बचाए:

चने का सेवन कैंसर से भी बचाव करता है क्योंकि चने में ब्यूटीरेट नाम का फैटी एसिड होता है जो कैंसर की कारक कोशिकाओं को ही खत्म कर देता है।

एनीमिया नही होगा:

भीगा हुआ चना आपके शरीर में खून की कमी से होने वाली बीमारी एनीमिया से भी बचाता है। क्योंकि कच्चे चने में आयरन भरपूर मात्रा में होता है।

Earn Money From Village: गेंदा फूल की खेती से पैसे कमाएं।

आंखों के लिए लाभदायक:

कच्चे चने खाने से हमारी आंखे भी ठीक रहती है, चने में मौजूद ß-कैरोटिन आंखों की कोशिकाओं को स्वस्थ रखती है।

बालों को काला, और स्वस्थ रखे:

भीगे चने प्रतिदिन खाने वाले व्यक्ति के बाल जल्दी सफेद और कमजोर नहीं होते, इसमें पाए जाने वाले विटामिन A, B और E बालों को तंदुरुस्त और काले घने बनाए रखते हैं।

गर्भवती स्त्री के लिए:

भीगे हुए या अंकुरित चने का सेवन गर्भवती स्त्री के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, चने में प्रोटीन की अत्यधिक मात्रा होती है। जिसका लाभ गर्भवती स्त्री के साथ पेट में पल रहे बच्चे को भी मिलता है।

कच्चा चना खाने से नुकसान:

बहुत ज्यादा मात्रा में कच्चा चना का सेवन लाभ की जगह हानि कर सकता है, चने के पौधे में मौजूद ऑलिगोसेकेराइड नाम का तत्व होता है जिसे जटिल शर्करा भी कहा जाता है। इसमें अल्फा गैलेक्टसेसीडेज की कमी होती है। जिनको आंतो संबंधित परेशानी हो वो चने का अत्यधिक मात्रा में सेवन न करें, पाचन संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अपच या गैस की शिकायत हो सकती है।

HandMade पापड़ का बिजनेस: एक बेहतरीन विकल्प भविष्य का

भुना चना खाने से लाभ:

भुना चना भी पाचन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, इससे तुरंत ऊर्जा मिलती है। अगर आपको कभी थकान महसूस हो तो भुना चना का सेवन अविलंब थकान दूर करता है। चने में मेथियोनिन नामक तत्व पाया जाता है जो हमारी शरीर की विभिन्न कोशिकाओं को विकसित होने में मदद करता है। साथ ही पेट में गैस की दिक्कत नही होने देता।

FAQ-

Que.1- भीगा हुआ चना पाचन में सहायक कैसे होता है ?

Ans.- चने में भरपूर फाइबर होता है, भोजन को पचाने के लिए कई कारक होते है लेकिन फाइबर उनमें से एक महत्वपूर्ण घटक है।

Que.2- भीगा हुआ चना भरपेट खाया जा सकता है?

Ans.- ऐसे तो चने को भरपेट खाया जा सकता है लेकिन जिनको आंत से संबंधित कोई परेशानी हो, उन्हे चना ज्यादा खाने से बचना चाहिए।

Que.3- चना अंकुरित या बिना अंकुरित में से कौन खाना सही होगा

?

Ans.- दोनो प्रकार के चने खाए जा सकते है, कोई भ्रांति ना पालें।

Leave a Comment