Eknath Shinde Biography in Hindi | एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय | chief minister of maharashtra

एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय , प्रारंभिक जीवन,परिवार, शिक्षा, जाति ,शादी ,बच्चे ,राजनीति , मुख्यमंत्री( Eknath Shinde Biography, Birth, Education, Family, Son, Net Worth and Political Career, chief Minister of Maharashtra )

Eknath Shinde: आज कल लगातार सुर्खियों में रहने वाला ये नाम वर्तमान महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और भारत के सबसे चर्चित चेहरों में से एक बने हुए हैं। एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र की राजनीति और शिवसेना पार्टी के एक पुरोधा राजनीतिज्ञ हैं। लेकिन इन दिनों वो मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बगावत कर चुके हैं।

एकनाथ शिंदे के पास लगभग शिवसेना के असंतुष्ट दो तिहाई विधायकों के साथ निर्दल विधायकों का भी साथ मिल रहा है जिससे वो उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद से हटने के लिए मजबूर कर दिए हैं, तो आइए जानते हैं आखिर इतना चर्चित नाम एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय।

Mobiles & Tech Related Information

एकनाथ शिंदे कौन हैं?

एकनाथ शिंदे वर्तमान महाराष्ट्र सरकार में शहरी विकास और लोक निर्माण विभाग के कैबिनेट मंत्री थे। लेकिन महाराष्ट्र की राजनीति मे बने नए समीकरणों को वजह से भाजपा नीत गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री का दायित्व संभालेंगे। एकनाथ शिंदे मूलतः महाराष्ट्र की राजनीति के बड़े राजनीतिज्ञ हैं। एकनाथ शिंदे बालासाहेब ठाकरे के खास आनंद दिघे के सिद्धांतो को मानने वाले हैं।

Eknath Shinde
Eknath Shinde

आनंद दिघे के साथ रहकर ही एकनाथ शिंदे ने राजनीति का ककहरा पढ़ा, ये चार बार से विधायक चुने जाते रहे। 2004, 2009, 2014 और चौथी बार 2019 में शिवसेना के टिकट पर ठाणे के कोपरी – पछपखडी से विधायक चुने गए।

नाम (Name)एकनाथ शिंदे
जन्मतिथि (Date of Birth)9 फरवरी 1964
आयु (Age)58 वर्ष (2022)
वजन (waight)68 किलो ग्राम
जन्मस्थान (Place of Birth)मुंबई, महाराष्ट्र
शिक्षा (Education)स्नातक (B.A.) मराठी और राजनीति शास्त्र में
प्रारंभिक विद्यालयन्यू हाई स्कूल ठाणे, महाराष्ट्र
कॉलेज (Collage)वासवंतराव चव्हाण मुक्त विश्वविद्यालय, महाराष्ट्र
धर्म (Religion)हिंदू
जाति (cast)पाटीदार
idiologyहिंदुत्व
नागरिकता (Citizenship)भारतीय
पेशा (Occupation)राजनीति
वैवाहिक स्थिति (Marrital Status)विवाहित
राजनीतिक दल (Political Party)शिवसेना
कुल संपत्ति (net worth)7.82 करोड़ ( 2019)

एकनाथ शिंदे का प्रारंभिक जीवन

एकनाथ शिंदे का जन्म भारत की आर्थिक राजधानी और महाराष्ट्र राज्य की राजधानी मुंबई में 9 फरवरी 1964 को हुआ था। इनके पिता जी का नाम संभाजी नवलू शिंदे और माता का नाम गंगू बाई शिंदे है। एकनाथ शिंदे की पत्नी का नाम लता शिंदे है, जो अपना बिजनेस संभालती हैं। शिंदे दंपति की इकलौती संतान के रूप में पुत्र हैं जिनका नाम श्रीकांत शिंदे है।

एकनाथ शिंदे का जीवन बहुत संघर्षों से भरा हुआ है, इनका परिवार बहुत गरीब था। उस समय एकनाथ शिंदे अपने परिवार के भरण पोषण के लिए मुंबई में ऑटो रिक्शा चलाते थे, ऑटो रिक्शा चलाने ले साथ वो ज्यादा पैसे कमाने के लिए शराब की फैक्ट्री में भी काम करने लगे।

जिससे उनका परिवार चल पाता था। 1980 के दशक में शिवसेना और बाला साहेब ठाकरे से प्रभावित होकर एकनाथ शिंदे शिवसेना के सदस्य बन गए, कहा जाता है तब भारत की राजनीति में खुलकर कट्टर हिंदुत्व की बात कोई नहीं कर पाता था। तब बाला साहेब ठाकरे ने राजनीति में हिंदुत्व जैसे मुद्दे को अपनाया था।

एकनाथ शिंदे पहली बार शिवसेना के टिकट पर 2004 में विधायक चुने गए, उसके बाद 2009, 2014 और 2019 में विधायक बने, जिसके बाद भाजपा से गठबंधन तोड़कर उद्धव ठाकरे ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई। जिसमे एकनाथ शिंदे को कैबिनेट मंत्री बनाया गया।

बाला साहेब ठाकरे की मृत्यु के बाद महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की हिंदुत्ववादी नेता के तौर पहचान बनी। लेकिन इधर 2019 में सरकार बनने के साथ ही एकनाथ शिंदे की रंगत कम पड़ने लगी। राज्य और सरकार में उद्धव ठाकरे और उनके पुत्र आदित्य ठाकरे का कद बढ़ने लगा, और शिंदे को महत्व कम दिया जाने लगा।

साथ ही बागी शिवसेना के विधायकों के अनुसार पार्टी और सरकार में उनकी नही सुनी जाती थी। इसके विपरित एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं की हर बात मानी जाती थी। ऐसे में उपेक्षित विधायक एकनाथ शिंदे से मिलकर अपनी बात कह पाते थे। जिसके बाद 37 से ज्यादा विधायको ने शिवसेना से अपना गुट अलग कर एकनाथ शिंदे को अपना नेता चुन लिया।

एकनाथ शिंदे की शिक्षा (Eknath Shinde Education )

एकनाथ शिंदे की प्रारंभिक शिक्षा न्यू इंग्लिश हाई स्कूल ठाणे से हुई। घर की आर्थिक स्थिति देख उन्होंने अपनी पढ़ाई अधूरी छोड़कर छोटे मोटे काम करना शुरू कर दिया। कभी ऑटो रिक्शा चलाकर अपने परिवार का पेट भरने वाले एकनाथ शिंदे ने बहुत संघर्ष किया है।

उन्ही दिनों 1980 के आस पास शिवसेना प्रमुख बाल साहेब ठाकरे और ठाणे जिला प्रमुख आनन्द दिघे से प्रभावित होकर राजनीति में कदम रखे। और शिवसेना के सैनिक बन गए।2014 के विधान सभा चुनाव जीतकर भाजपा + शिवसेना में मंत्री बने, फिर अपनी अधूरी पढ़ाई की पुनः शुरुआत भी की।

जिसके बाद उन्होंने वासवंत राव चव्हाण मुक्त विश्वविद्यालय, महाराष्ट्र से मराठी और राजनीति शास्त्र में स्नातक की पढ़ाई करने के बाद डिग्री हासिल की।

एकनाथ शिंदे का परिवार (Eknath Shinde family)

एकनाथ शिंदे जी की माता जी का नाम गंगुबाई शिंदे है। इनके पिताजी का नाम संभाजी नवलु शिंदे था। इनकी पत्नी का नाम लता शिंदे है, इनके दो पुत्र और एक पुत्री थे। लेकिन 2000 के एक हादसे में एक पुत्र और पुत्री का असमय निधन हो गया। अब इनके एकमात्र पुत्र श्रीकांत शिंदे हैं।

एकनाथ शिंदे का राजनीतिक करियर (Eknath Shinde political Carriar)

  • एकनाथ शिंदे 1997 में पहली बार पार्षद बने, जो ठाणे नगर निगम से पार्षद का चुनाव जीते थे।
  • 2001 में इनको ठाणे नगर निगम में सदन के नेता के तौर पर चुना गया।
  • 2002 में दुबारा एकनाथ शिंदे ने ठाणे नगर निगम चुनाव में जीत दर्ज की।
  • 2004 में एकनाथ शिंदे पहली बार विधायक का चुना लड़े और जीत का परचम लहराया।
  • शिवसेना ने एकनाथ शिंदे को 2005 में ठाणे जिला प्रमुख पद पर बिठाया।
  • एकनाथ फिर 2009 में महाराष्ट्र विधान सभा के चुनाव में विजय प्राप्त कर विधान सभा पहुंचे।
  • 2014 में भाजपा + शिवसेना गठबंधन चुनाव में जीतकर विधान सभा पहुंच गए।
  • अक्टूबर 2014 से लेकर दिसंबर 2014 तक एकनाथ विधानसभा में नेता विपक्ष रहे।
  • फिर भाजपा + गठबंधन की सरकार दिसंबर 2014 में बनने पर मंत्री बने।
  • 2014 से 2019 तक ठाणे के संरक्षण मंत्री रहे।
  • 2019 में भाजपा सरकार मे लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बने।
  • 2019 में चुनाव जीतने पर में शिवसेना का नेता नियुक्त किया।
  • 2019 में विधानसभा में शिवसेना विधायक दल के नेता नियुक्त हुए।
  • 28 नवंबर 2019 को महा विकाश अघाड़ी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया।
  • इनको शहरी विकास और लोक निर्माण विभाग जैसे महत्वपूर्ण विभाग दिए गए।
  • साथ ही इनको गृह मामलों का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया।
  • 2020 में ठाणे शिवसेना का संरक्षण मंत्री भी बनाया गया।

एकनाथ शिंदे का राजनीतिक उदय

एकनाथ शिंदे के राजनीतिक गुरु आनद दिघे की दुर्घटना में अकस्मात मृत्यु 26 अगस्त 2001 को हो गई। जिसको तब लोग राजनीतिक हत्या करार देते थे। गुरु आनंद दिघे की असमय मृत्यु हो जाने से ठाणे में शिवसेना का प्रभुत्व कम होने लगा।

जिसके बाद ठाणे की कमान एकनाथ शिंदे को सौंपी गई, जिसके बाद एकनाथ ने अपनी बुद्धिमता और कौशल से शिवसेना का किला ठाणे में फिर से मजबूत कर दिया। इस प्रकार महाराष्ट्र की राजनीति और शिवसेना में उनका कद धीरे धीरे बढ़ने लगा।

शिवसेना टूट के कगार पर

वर्तमान में मची पार्टी में कलह के लिए विधायको द्वारा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को कसूरवार ठहराया जा रहा है। कई विधायको का अचानक एकनाथ शिंदे के साथ मुंबई छोड़ सूरत जाना और वहां से असम के गुवाहाटी में रुकने और दो तिहाई से ज्यादा विधायकों के एकनाथ शिंदे को समर्थन देने से उद्धव ठाकरे सरकार अल्पमत में आ गई है।

विधायको का सीधा दोषारोपण मुख्यमंत्री पर है की वो उनसे मिलते तक नहीं थे, और एनसीपी, कांग्रेस के विधायको और मंत्रियों का मुख्यमंत्री तक सीधे आना जाना लगा रहता। वो अपने क्षेत्र में काम कराने के लिए फंड ले जाते रहे और मुख्यमंत्री से हमारा मिलना भी मुश्किल हो गया था। जिसके बाद सबने अलग गुट बना लिया।

कुछ का तो यहां तक कहना है कि असली सरकार शरद पवार चला रहे थे। उद्धव ठाकरे बस नाम के ही मुख्यमंत्री थे। हिंदुत्व को छोड़कर पार्टी दूसरे छोर पर जा रही थी जिससे शिवसैनिकों में असंतोष व्याप्त होने लगा था। ऐसा देखकर हमने ऐसा कदम उठाया, ऐसा कई विधायकों का कहना है।

chief minister of maharashtra

29 june 2022 को उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद एकनाथ शिंदे और अन्य विधायक गोवा में ठहरे थे। जिसके बाद भाजपा और शिंदे गुट ने मिलकर सरकार बनाने का दावा राज्यपाल के यहां पेश किया। साथ ही चौकाने वाले फैसले के साथ भाजपा हाईकमान ने 30 जून 2022 को ही पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की जगह एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री घोषित किया।

एकनाथ शिंदे की कुल संपत्ति (eknath shinde net worth)

एक रिपोर्ट के अनुसार 2019 तक एकनाथ शिंदे की कुल अनुमानित संपति 7 करोड़ 82 लाख बताई गई है। जिसमे से बैंक में जमा पैसा ₹ 2,81000 है। वहीं नगद धन के तौर पर इनके पास 32,64,760 रुपए है। साथ में 30,591 रुपए के दिवेंचर और bond हैं।

इससे हटकर जीवन बीमा और LIC में कुल 50,08,930 रुपए हैं। वाहन और आभूषण मिलाकर 80,00000 रुपए की संपति है। इनके पास एक जमीन का टुकड़ा है जिसकी कीमत 28,000000बताई गई है। साथ में कमर्शियल प्रॉपर्टी की कीमत 30,00000 रुपए है।

ALSO READ:

FAQ-

Q- एकनाथ शिंदे कौन हैं?

ANS.- एकनाथ शिंदे शिवसेना के नेता और भाजपा गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री बने हैं

Q- Eknath Shinde family में कौन कौन हैं?

Ans- वो स्वयं, पत्नी और एक पुत्र जिनका नाम श्रीकांत शिंदे है।

Q- Eknath Shinde cast क्या है?

ANS.- पाटीदार समुदाय से आते है।

Q- एकनाथ शिंदे शिक्षण कहां तक हुआ है?

ANS.- स्नातक तक।

Leave a Comment