करौली सरकार: जहां असंभव भी संभव हो जाता है | Karauli Sarkar Kanpur

Karauli sarkar
Karauli Sarkar Photos

करौली सरकार बाबा कौन हैं, Who is Karauli Sarkar, करौली सरकार कहां है, करौली सरकार जाने का रास्ता, करौली सरकार का नियम, करौली सरकार का फोन नंबर, करौली सरकार के चमत्कार,karauli sarkar live, karoli baba kanpur, करौली सरकार की सच्चाई, करौली सरकार कानपुर।

करौली सरकार कौन हैं (Who is Karauli Sarkar Kanpur)

करौली सरकार: जहां असंभव भी संभव हो जाता है | Karauli Sarkar Kanpur: करौली सरकार दरबार एक हिंदू सनातन दरबार है जहां भगवान भोले नाथ और माता कामाख्या की शक्तियां ही परम पूज्य गुरुदेव पंडित श्री राधा रमण मिश्र जी (radha raman mishra karauli) और माता कामरू कामाख्या के निर्देशन पर भक्त गणो के दुखों का निराकरण करतीं हैं।

इस धाम के संस्थापक स्वयं श्री पंडित श्री राधा रमण मिश्र जी हैं, हालांकि वो सशरीर नहीं है। लेकिन अलौकिक रूप में प्रत्येक क्षण अपने भक्तों के साथ रहते हैं। करौली सरकार धाम का सञ्चालन परम् पूज्य गुरुदेव के शिष्य डॉक्टर श्री संतोष सिंह भदौरिया जी करते हैं, और वही करौली सरकार के निर्देशों के हिसाब से प्राकृतिक चिकित्सा भी करते हैं। 

 

करौली सरकार कहां हैं? Karoli sarkar Kanpur.

Karauli Sarkar Kanpur address – करौली सरकार धाम कानपुर (उत्तर प्रदेश ) के ग्राम करौली, पिपरगावा, में स्थित हैं, पता –

मानव मंदिर, लव कुश आश्रम

ग्राम – करौली, कानपुर (ऊ. प्र.) 208021

Email- [email protected]

करौली सरकार का फोन नंबर: kanpur Karauli sarkar Contact Number:

आप दरबार से केवल इसी फोन नंबर से जुड़े

9839861919 Karauli Sarkar Whatsapp number भी यही है। आप इस पर whatsapp के माध्यम से भी जुड़ पाएंगे, लेकिन whatsapp call न करें अन्यथा आपका नंबर स्वतः ब्लॉक हो जायेगा।

ड्राई फ्रूट्स बिजनेस को कहां और कैसे शुरू करें।

करौली सरकार जाने का रास्ता:

करौली सरकार धाम जाने का रास्ता बहुत ही आसान और सीधा है, कानपुर सेंट्रल से आपको ऑटो रिक्शा से रामा देवी चौराहा आना होता है, वहां से पिपरगावां के लिए दुबारा ऑटो रिक्शा पकड़ कर आना होता है। और जब आप अपने वाहन से आ रहे हैं तो रास्ता यही है, चाहें तो गूगल मैप का सहारा लिया जा सकता हैं। 

करौली सरकार के नियम :

इस धाम में जुड़ने के लिए कोई कठिन नियम नहीं हैं, लेकिन कुछ संक्षिप्त नियम है जिसका पालन करना आवश्यक है। यहां पहुंच कर स्नानादि आदि से मुक्त होकर प्रतिदिन चलने वाले वर्कशॉप का हिस्सा बनना होता है। जैसे –

  • पूज्य गुरुदेव बाबा जी और पूज्य माता जी के यहां अर्जी, बंधन लगाकर संकल्प लेने से ही कष्ट दूर होने शुरू हो जाते हैं।
  • करौली सरकार की जय तीन बार बोलिए, और साथ में ॐ नमः शिवाय का जप मन ही मन करते रहें।
  • तत्पश्चात हवन, पूजन और आरती में सम्मिलित होकर गुरु जी डॉक्टर श्री संतोष सिंह भदौरिया जी का प्रवचन सुनना होता है।
  • यहां पर दो नियम हैं एक हवन का दूसरा नमन का, आप अपनी सुविधानुसार कोई भी चुन सकते है। आपको कुल मिलाकर नौ हवन करने होते हैं। करौली सरकार का हवन का शुल्क 3550/- रुपए प्रति हवन किट पड़ता है।
  • अगर आप सक्षम नहीं हैं नमन भी कर सकते हैं, बाबा जी की कृपा उतनी ही मिलेगी जितना हवन करने वाले को मिलती हैं। नमन निःशुल्क है, उसके लिए आपको कुछ भी नहीं देना।
  • इसके अलावा आपसे कोई 1 रुपया किसी भी रूप में नही लिया जाता। यहां किसी से कोई भी दान नहीं लिया जाता।
  • सबसे पहले आप चाहे तो हवन मंदिर परिसर में बने कमरों या हाल में रहकर कर सकते हैं या आप घर मंगा कर भी कर सकते हैं।
  • करौली सरकार भूत प्रेत की झाड़ फूंक नही करते, इस धाम में पूर्वजों की मुक्ति होती है, या जिस व्यक्ति पर अगर कोई दुष्ट शक्ति ने कब्जा जमा रखा है । उसका उपचार करौली सरकार बाबा के दरबार में आते ही स्वयं शुरू हो जाता है।
  • कई धर्मों के लोग जो सनातन सभ्यता को मानते हुए पूजा पाठ कर लेते हैं,उनको लाभ प्राप्त होता है। लेकिन जो लोग हिंदू सनातनी सभ्यता को नहीं मानते उनका उपचार यहां संभव नहीं है।
  • आपके एक DNA से जुड़े हुए लोग जैसे – पिताजी, दादाजी, ताऊ, चाचा, भाई, भाभी, भतीजा।भतीजी, बहन ( अविवाहित) में से कोई एक इस नौ हवन के करने मात्र से अपने पूर्वजों को मुक्त कर स्वयं सुखी हो सकते हैं। सभी का उपस्थित होना भी आवश्यक नहीं है, एक व्यक्ति ही काफी है।
  • दरबार में प्रतिदिन प्रवचन, हवन कीर्तन चलता रहता है। लेकिन शनिवार और अमावस्या का विशेष महत्व है।

करौली सरकार में क्या होता है?

आप की कोई ऐसी समस्या जिससे अथक प्रयास के बाद आप निजात नहीं पा रहे हो, तो आप को करौली धाम आना ही चाहिए। जहां Medical Science और विज्ञान असफल हो जाता है। तब व्यक्ति किसी ऐसे उजाले से भरे रास्ते की तलाश करता है जो दिखता नहीं, लेकिन आस पास ही होता है। मेरी व्यक्तिगत अनुभव और राय यही कहती है। आगे आपकी इच्छा और बाबाजी की कृपा।

हम भले ही विज्ञान के पथ से गुजरते हुए खुद को स्वयंभू सर्वज्ञानी घोषित कर लें, लेकिन अलौकिक शक्तियों को पार पाना आसान नहीं है। मैं बताना चाहूगा की इस करौली धाम में पूज्य गुरुदेव पंडित श्री राधा रमण मिश्र जी जी और माता कामरु कामख्या स्वयं अलौकिक रूप में रहकर अपने भक्तो के कष्टों का हरण करते हैं।

कुछ लोग इस धाम के बारे में सही बात नही करते क्यों कि जिसकी जैसी मानस स्थिति होती है वो सबके बारे में वैसी ही राय रखता है। अगर आपके जीवन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है, तो कम से कम एक बार जरूर इस धाम पधारे, जिसके लिए कोई शुल्क नहीं है। आप यहां आकर स्वयं महसूस करना शुरू कर देंगे। आप नमन विधि से संतुष्ट हो सकते हैं।

इस पावन धाम में भूत – प्रेत की झाड़ – फूंक नहीं होती। और वास्तव में भी कोई भूत नही होता। जिन अबूझ परेशानियों से हम परेशान रहते हैं वो हमारे खुद के पूर्वजों के द्वारा रचित परेशानियां होती है। जो अब आत्मा (प्रेत योनि) के रूप में परिवर्तित हैं।

यहां पर हवन विधि और नमन विधि से पूर्वजों की मुक्ति प्रत्येक अमावस्या के दिन होती है। आप चाहें तो नौ हवन कर जल्दी से अलौकिक बाधाओं से मुक्ति पा सकते हैं। या नमन विधि से अपनी समस्त संकटों से पार पा सकेंगे।

KARAULI SARKAR- NEW PATIENT INSTRUCTION

करौली सरकार के दरबार आप जब भी आएं तो अपने मन को बाबा जी के श्री चरणों में अर्पित कर दें क्योकि ये अद्भुत दरबार है मन में किसी प्रकार का खोट न रखें, अन्यथा लाभ मिलने की सम्भावना कम ही रहेगी। पहले के अपेक्षा अब नियमों में समय और स्थिति को देखते हुए बदलाव किये गए हैं। 

  •  दरबार पहुंचकर सबसे पहले आपको पंजीकरण कराना पड़ता है तत्पश्चात आईडी कार्ड प्राप्त होने के बाद ही आप दरबार से जुड़ी प्रक्रियाओं में सम्मिलित हो पाते हैं। उसके बाद मंदिर के काउंटर से ही भोग प्रसाद और बंधन खरीद कर बाबा जी और गुरु माता के यहां अर्जी लगाते हैं।
  • बाबा जी के यहां अर्जी लगाने के बाद गुरु माता के यहां अर्जी लगाते हैं और प्रांगण में गड़े हुए त्रिशूलों में से किसी एक पकड़कर अपने दुख तकलीफ और समस्याओं को मन ही मन स्मरण करते हुए गुरुमाता से प्रार्थना करनी होती है।
  • बंधन के साथ कुल नौ हवन करने का प्रावधान है जिसे आप चाहें तो दरबार में या घर ले जाकर भी कर सकते हैं।
  • आपकी घर में जितने लोग हों सबको बंधन जरूर पहनना होता है।
  •  आप अपनी इच्छानुसार लगातार नौ दिन में भी हवन कर सकते है लेकिन नियमो के अनुसार बीच में अमावस्या न आए। नौ हवन करने के पश्चात आप अमावस्या के दिन दरबार जरूर पहुंचे।
  • हवन को करने के लिए कोई विशेष नियम नहीं है और न ही किसी ब्राह्मणदेव की जरूरत पड़ती है किट के अंदर लिखे नियमो के अनुसार नियम करें।
  • Karauli Sarkar fees के नाम पर तमाम भ्रांतियां है लेकिन वहां पर किसी प्रकार का चंदा, दान- दक्षिणा, दान पेटिका जैसी कोई व्यवस्था नहीं है। हवन किट 3500/- रूपये प्रति किट मूल्य है। 
  • नौ हवन संपन्न होने के पश्चात दरबार में आएं और ब्लैक मैजिक संकल्प कार्यक्रम में अवश्य भाग लें जिसमे हवन करने वाले व्यक्ति का ब्लैक मैजिक काटा जाता है तत्पश्चात परिवार के अन्य सदस्यों का। 
  • दरबार में अगर सबका जाना संभव नहीं हो पाता है तो अन्य सदस्यों का फोटो या कोई पहना हुआ कपड़ा ले जाकर गुरुजी के द्वारा ब्लैक मैजिक काटा जाता है।
  • ब्लैक मैजिक संकल्प कार्यक्रम और स्मृति रोग चिकित्सा के बाद अमावस्या के दिन गुरुजी से मिलने का नियम है जब दुष्ट पितृ मुक्ति होती है, अगर फिर भी आपको कोई दिक्कत हो तो गुरुजी से तुरंत बताएं।
  • हवन किट लेते समय आपको दो यंत्र भी लेने होंगे जिसको आठवें हवन के दिन रखकर पूजन करते है और दूसरे यंत्र को nauve दिन पूजा जाता है। प्रथम यंत्र से आपके और आपके परिवार के ऊपर दुष्ट शक्तियों का आजीवन असर नहीं होता दूसरे यंत्र से धन धान्य की रक्षा होती है जिसे आप अपने हिसाब घर या प्रतिष्ठान में कहीं रख सकते हैं।
  • अगर आप करौली सरकार दरबार से जुड़कर श्री राधारमण मिश्र संप्रदाय की दीक्षा लेना चाहते हैं तो पूर्णिमा के दिन गुरुजी से मिलकर दीक्षा प्राप्त कर सकते हैं।
  • सबसे ध्यान देने वाली बात यही है कि अगर आप की श्रद्धा बाबाजी के प्रति नही है या किसी ऐसे संप्रदाय से संबंध रखते हैं जो सनातन धर्म को नहीं मानता तो आप अनुसरण न करें, अन्यथा लाभ नहीं मिल पाएगा। 

करौली सरकार के चमत्कार :

इस विषय पर ज्यादा चर्चा नाकाफी होगा, आप चाहे तो स्वयं करौली सरकार कानपुर धाम आकार महसूस कर सकते हैं। या Youtube पर करौली सरकार कानपुर सर्च कर देखिए और समझिए।

इस पोस्ट में मुझे अपनी व्यक्तिगत राय पोस्ट नही करनी चाहिए थी, लेकिन लोगों को अपना अनुभव सांझा कर सकूं इसलिए कर रहा हूं।

एक दिन सड़क पर बाइक से चलते हुए एक बाइक वाले ने सामने से मेरी बाइक में टक्कर मार दी जिससे मेरी बाइक के हिस्से कई जगह से क्षतिग्रस्त हो गए। ऐसा देख मुझे अत्यंत क्रोध आया और मैंने जैसे – तैसे बाइक को 95 KM की रफ्तार से टूटी हुई सड़क पर पीछा करने लगा।

थोड़ी देर बाद ही वो बाइक वाला दिख गया जिसने मुझे टक्कर मारी थी, मैं गुस्से में उसे अपनी बाइक से टक्कर मारने ही वाला था कि अचानक मेरे सामने एंबुलेंस, दाहिने से बोलरो कार आ गई, मौत सुनिश्चित थी। लेकिन मेरे मुंह से केवल 5 शब्द अनायास निकल पड़े, करौली सरकार मेरी रक्षा करो ।

मैं अचानक गलत साइड दाहिने की तरफ चला गया और बिना एंबुलेंस और बोलेरो से टकराए जमीन पर पेट के बल गिर पड़ा। जिसमे हल्की चोटे आई। जो कुछ दिनों में भर गई और मैं पुनः सामान्य हो गया। मौत सामने और सकुशल बच जाना ये किसी भी बड़े चमत्कार से कम नहीं है मेरे लिए।

मुझे विश्वास है कि आपको मेरे द्वारा करौली सरकार कानपुर पर दी जाने वाली जानकारी अच्छी लगी होगी। कमेंट करके जरूर बताइएगा।

 

Karauli sarkar के नए वीडियो देखने के लिए YOUTUBE पर karauli sarkar live today सर्च करें, आपको दरबार से जुडी लेटेस्ट और करंट वीडियो मिल जाएगी, आप उसे देखें।

DISCLAIMER– इस लेख के माध्यम से भूत – प्रेत जैसी बातों का बढ़ावा देना मेरा मकसद नहीं है। इस लेख का मकसद लिखी गई बातों से किसी भी जाति, धर्म, संप्रदाय को ठेस पहुंचाना नहीं हैं। उपरोक्त जानकारी अध्ययन और मेरे व्यक्तिगत अनुभव के आधार पर है।इससे किसी का कोई लेना देना नही है। इन बातों से मेल एक संयोग मात्र हो सकता है।

FAQ-

Que.1- करौली सरकार कहां पर हैं ?

Ans. करौली सरकार कानपुर के पिपरगावा स्थित करौली ग्राम में विराजमान हैं। वही पर लव कुश आश्रम है।

Que.2- करौली सरकार कानपूर जाने का रास्ता कैसे है ?

Ans.- कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन से उतरकर घंटाघर की तरफ जाएं, वहा से रामा देवी चौराहा के लिए ऑटो से जाएं। पुनः रामादेवी चौराहा से करौली सरकार के लिए ऑटो मिलती हैं, जो सीधे आश्रम ही पहुंचती हैं। आप अपने वाहन से आ रहे है तो गूगल मैप का भी सहारा ले आश्रम पहुंच सकते हैं।

Que.3- करौली सरकार का फोन नंबर क्या है ?

Ans.- Karauli sarkar kanpur contact Number 9839861919 है, लेकिन इस पर बात नही हो सकती। अगर आपने कॉल करने की कोशिश की तो आपका नंबर स्वतः Block हो जायेगा। आप यूट्यूब देखकर अपनी समस्या समझ सकते है। इस नंबर पर आप अपनी फोटो के साथ अपना पता और समस्या भेज सकते हैं।

24 thoughts on “करौली सरकार: जहां असंभव भी संभव हो जाता है | Karauli Sarkar Kanpur”

  1. हरि ॐ।
    करोली सरकार की जय।
    नमन के लिये कितने दिन तक दरबार मे रुकना पड़ेगा?

    Reply
    • करौली सरकार की जय
      नमन के लिए लगातार रुकने के लिए जरूरत नहीं है, आप जब भी दरबार जाएं, अर्जी बंधन लगाकर आएं और तब तक जाते रहे जब तक आपकी समस्या का समाधान नहीं हो जाता। वहीं हवन के लिए एक निश्चित समय सीमा होती है। यही अंतर है नमन और हवन पद्धति में। और वैसे आप karauli sarkar kanpur YouTube पर सर्च कर वीडियो देख सकते हैं।
      धन्यवाद

      Reply
        • जहां भी आप हैं वही से बाबाजी का ध्यान करें और यूट्यूब पर करौली सरकार की वीडियो जरूर देखें, समय निकाल कर एक बार जरूर जाएं।

          Reply
          • Karauli Sarkar ki Jay Mai IAS Banna chahti hun Mari height 6inch aur ho jay sari bemari khatam ho jay to he ham ko Vishwas hoga kyunki Ham bahut pareshan Ho chuke agar saccha Darbar Hai to Meri ichcha Puri karo

          • सर्वप्रथम विश्वास कीजिये, तदुपरांत एक बार करौली सर्कार धाम जरूर जाएँ, उसके बाद आपका निर्णय।

  2. namaskar ji
    HUM 3 mahine se darbar se jude hain, main army m posted hu aur filhal ladakh me posted hu , main ye janna chahta hu ki hume waha eggs aur wine jaruri hota hai , iske bina waha jivit nhi reh sakte hain, aise m kya hum hamare punya chale jynge ya koi nayi shakti kholi gyi hai jisse hum jaise logo ke punya barkarar rahe

    Kripya bataye aur duvidha dur kare

    Reply
    • Priya ji ! आपने करौली सरकार की कोई वीडियो देखी है क्या Youtube पर। अगर नही देखा है तो वीडियो देखना शुरू कीजिए। और संभव हो तो एक बार जरूर करौली सरकार कानपुर जाकर बाबा जी के यहां अपनी अर्जी लगाइए, सब ठीक हो जायेगा। ऐसा मेरा मानना है, जय श्री करौली सरकार

      Reply
  3. Karauli Sarkar ki jai ho
    GURU PITHA RADHA RAMAN JI KI JAI HO
    GURU MATHA KAMRU KAMAKHYA KI JAI HO
    SHAKTI SWAROOPA KI JAI HO
    GAU MATHA KI JAI HO
    SACHE SANTHO KI JAI HO
    SACHE GURUON KI JAI HO
    SACHE DARBAR KI JAI HO
    HAR HAR MAHADEV

    Reply
  4. KAROLI SARKAR KI JAI HO.
    MUJHE YE JANNA HAI KI..JAB TAK HAM NAMAN KARNE KE LIYE DARBAAR ME JAATE RAHENGE ….US DAURAAN HAM NON-VEG KHA SKTE HAI YA NAHI…

    Reply
  5. जिस के पास रुपया नही वह भी आ सकता है या नही

    Reply
    • जरूर आ सकता है। वहां पर दो विधियां है १- नमन विधि (निः शुल्क) २- हवन विधि जिसमें आपको कुल ९ हवन करने होते हैं, जिसकी लिए हवन किट खरीदना पड़ेगा।

      Reply
  6. एक दिवसीय हवन सभी दिन होता है या कोई निश्चित दिन को?

    Reply
  7. एक दिवसीय हवन सभी दिन होता है या कोई निश्चित दिन को?

    Reply

Leave a Comment